देश मेरा रंगीला (स्वतंत्रता दिवस)

Clipartविजयी विश्व तिरंगा प्यारा,झंडा ऊचाँ रहे हमारा……..

यहाँ हर कदम-कदम पर धरती बदले रंग , यहाँ की बोली में है रंगोली के सात रंग, ऐसा देश है मेरा, देश मेरा रंगीला……..जहाँ के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा के तीन रंगों की क्षैतिज पट्टियां और नीले रंग का चक्र देश के सुख, शांति और समृधि का प्रतीक है। सम्पूर्ण देश आज स्वतंत्रता दिवस के जश्न में डूबा हुआ है। आज  (15 अगस्त) के दिन स्कूल-कॉलेज, सरकारी कार्यालयों और निजी संस्थानों आदि पर जगह -जगह ध्वजारोहण और देश पर कुर्बान शहीदों की याद में कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। जिस ऊँचें लहराते तिरंगे को देखकर स्वतः ही मन में देशप्रेम का जज्बा उजागर हो जाता है उसे पिंगली वेकैंया ने बनाया था।पिंगली वेकैंया इनके द्वारा बनाये गए इस झंडे में लाल रंग हिंदुओं के लिए, हरा रंग मुसलमानों के लिए और सफेद रंग अन्य धर्मों के लिए इस्तेमाल किया गया था। चरखे को प्रगति का चिन्ह मानकर झंडे में जगह दी गई थी। बाद में राष्ट्रीय ध्वज में इस तिरंगे के बीच चरखे की जगह अशोक चक्र ने ले ली, जो गहरे नील रंग का है और उसमें 24 तीलियां हैं ।रांची के पहाड़ी मंदिर पर भारत का सबसे बड़ा और ऊंचा तिरंगा लहराता है .स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में आइये सुनते है देशभक्ति के गीत :

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊचाँ रहे हमारा :