यादों के झरोखे से – कॉमेडी किंग महमूद की पुण्यतिथि

हिन्दी सिनेमा में हास्य कलाकार के तौर पर पहचान बनाने वाले, अद्भुत अभिनय के मालिक महमूद (महमूद अली) साहब की आज 23 जुलाई को पुण्यतिथि है। उन्होंने करीब 300 से ज्यादा सिनेमा में अपने अभिनय की रंगत दिखलाई। प्रारंभ में ये फिल्मों में छोटी-मोटी भूमिकाएं ही निभाते थे। बाद में उन्होंने कुछ मुख्य भूमिकाएं भी निभाई और कुछ हिट  फिल्मों […]

» Read more

जाने कहाँ गए वो……….मुकेश जी

चाहे दर्द का गीत हो या फिर प्यार का, मुकेश जी की आवाज ने जिंदगी के हर जज्बातों को अपने सुरों से सजाया। आज 22 जुलाई को मुकेश जी के  जन्मदिवस के अवसर पर रूबरू होते है उनकी जिंदगी के कुछ पहलुओं से : इनका पूरा नाम मुकेश चन्द्र माथुर था बचपन से ही संगीत में इनकी गहन रूचि थी। मुकेश […]

» Read more

श्रद्धांजलि – Mubarak Begum A Legendary Play Back Singer

कभी तन्हाइयों में यूं हमारी याद आएगी…इस मशहूर गीत को गाने वाली  पार्श्‍वगायिका मुबारक बेगम आज हमारे बीच एक याद बन कर रह गयी हैं। किसी वक्त लाखों दिलों पर राज करने वाली गायिका मुबारक बेगम का लंबी बीमारी के बाद सोमवार रात मुंबई के जोगेश्वरी स्थित अपने घर में निधन हो गया । वह 80 वर्ष की थीं। करीब 55 […]

» Read more

हिन्दी सिनेमा की श्वेत-श्याम दुनिया

1950 के दशक में हिंदी फिल्में श्वेत-श्याम से रंगीन हुईं। इसके पहले हिंदी सिनेमा जगत रंगों से अछूता था, लेकिन सिनेमा की ब्लैक एंड व्हाइट दुनिया भी सिने प्रेमियों के दिलों पर छाई रहीं। श्वेत-श्याम से लेकर रंगीन फिल्मों के अब तक के दौर में हिंदी सिनेमा में बहुत परिवर्तन हुए और यह परिवर्तन फिल्म निर्माण के हर क्षेत्र में […]

» Read more

अंदाज-ए -कव्वाली

क़व्वाली संगीत की एक विधा है । हिंदी सिनेमा जगत में 1944 में पहली बार फिल्म ‘नाईट बर्ड’ के गाने ( हसीनों के लिए) में कव्वाली का अंदाज दिखा था ।धीरे-धीरे हिंदी फिल्मों में कव्वाली ने अपनी पैठ बना ली ,लेकिन समय के साथ जैसे – जैसे हिंदी फिल्मों में बदलाव हुआ , पारंपरिक क़व्वाली का स्वरुप भी बदलने लगा […]

» Read more
1 2 3