यादों के झरोखे से -मदन मोहन कोहली

सन् 1950 से 1970 तक के तीन दशको में संगीत की धूम मचाने वाले हिंदी सिनेमा के प्रख्यात  संगीतकार मदन मोहन कोहली का आज की ही तारीख़ 25 जून को जन्म हुआ था । अपने युवावस्था में यह एक सैनिक थे लेकिन फौजी वर्दी और जंग का मैदान इस संगीत प्रेमी को रास  न आया और इन्होनें वापस आकर लखनऊ का […]

» Read more

सुर-संगीत-वर्ल्ड म्यूजिक डे

संगीत में गायन,वादन और नृत्य का समावेश होता है ।इस दुनिया में शायद ही कोई इन्सान हो जिसे संगीत पसंद ना हो ।लेकिन हाँ सबको एक जैसा ही संगीत पसंद हो , यह भी जरुरी नहीं । सबके पसंदीदा संगीत का अपना-अपना मिजाज होता है । किसी को गजल पसंद होता है ,तो किसी को हलके-फुल्के प्यार भरे गीत ,कोई […]

» Read more

गाने नये-पुराने – मस्ती भरे गीत

जून का महीना मतलब गर्मी की छुट्टियाँ जिसमें बच्चे अपने नाना-नानी और दादा-दादी के पास जाते हैं , कुछ लोग हिल स्टेशन पर घुमने जाते हैं या परिवार के सदस्य और दोस्त-मित्र सभी एक साथ पिकनिक मनाते हैं , कहने का अर्थ यह है कि सभी मस्ती के मूड में होते हैं पर बहुत से लोग अपने काम की वजह […]

» Read more

यादों के झरोखे से….हिंदी सिनेमा की मशहूर अभिनेत्री ‘नरगिस’

हिंदी सिनेमा की मशहूर अभिनेत्री जिनका वास्तविक नाम फातिमा राशिद था । लेकिन सिनेमा जगत में यह खूबसूरत अदाकारा ‘नरगिस’ के नाम से प्रसिद्ध हुईं । इन्होंने मात्र छः वर्ष की आयु से ही सिनेमा में बाल कलाकार के रूप में काम करना आरम्भ कर दिया था और 14 वर्ष की उम्र में नरगिस जी ने महबूब खान साहब की […]

» Read more

छायागीत – रेकॉर्डिन्ग – ममता सिंह द्वारा प्रस्तुत

छायागीत विविध भारती सेवा के प्रसिद्ध कार्यक्रमों मे से है। ये रेकॉर्डेड कार्यक्रम प्रस्तुत किया है, रेडियो सखी ममता सिंह जी ने। ममता जी ये कार्यक्रम  मंगलवार को रात दस बजे प्रस्तुत करती हैं। 16 जून 2015  के इस कार्यक्रम मे जो गीत शामिल किये गये है वो इस प्रकार हैं आज मेरे मन मे सखी बाँसुरी बजाये कोई हुश्ने […]

» Read more
1 2 3 4